IFS ऑफिसर स्नेहा दुबे जीवन परिचय | Sneha Dubey Biography in Hindi

स्नेहा दुबे आजकल काफी चर्चे में है। स्नेहा दुबे कौन है और क्यों चर्चे का विषय बनी हुई है आइये जानते है। हम जानेंगे इस पोस्ट IFS ऑफिसर स्नेहा दुबे जीवन परिचय | Sneha Dubey Biography in Hindi के जरिये। स्नेहा दुबे के बारे में पूरी जानकारी के लिए हमारे इस पोस्ट पे अंत तक बने रहे। 

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका गए थे और उनके अमेरिकी यात्रा को कवर करने के लिए अंजना ओम कश्यप भी उनके साथ गई थी।

वहां पर अंजना ओम कश्यप ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत की प्रथम सचिव स्नेहा दुबे का इंटरव्यू लेने के लिए बिना उनके पूर्व अनुमति के उनके केबिन में चली गई और उनका लाइव इंटरव्यू लेने की कोशिश की।

जिसके बाद स्नेहा दुबे ने काफी सभ्यता पूर्ण अंजना ओम कश्यप को अपने केबिन से बाहर निकलने के लिए कहा। इसके बाद अंजना ओम कश्यप को ट्विटर पर काफी ट्रोल किया गया और स्नेहा दुबे की काफी तारीफ की जा रही है। लोगों ने स्नेहा दुबे के विनम्रता पूर्ण ऐसा करने के लिए काफी तारीफ कर रहे है।

इसी दौरान उनके दूसरे चर्चा का विषय है पाकिस्तान और उसके प्रधानमंत्री इमरान खान

संयुक्त राष्ट्र महासभा में फिर से एक बार कश्मीर के लिए राज अलापा गया था। जिसके बाद राइट टू रिप्लाई में भारत की तरफ से स्नेहा दुबे को बोलने का मौका दिया गया जिसके स्नेहा दुबे ने अपनी बात रखते हुए या कहा कि कई देशों को यह पता है कि पाकिस्तान द्वारा आतंकियों को पनाह दिया जाता है और हमेशा से समर्थन देने का भी इतिहास रहा है।

Must Watch Sneha Dubey Full Biography on Youtube 

स्नेहा दुबे ने पाकिस्तान के लिए यह भी कहा है कि पाकिस्तान इंटरनेशनल लेवल पर हमेशा से आतंकवादी गतिविधियों को समर्थन करता है और हथियार उपलब्ध कराता है।

इस तरह के विभाग बोल और खुलेआम बोलने के लिए स्नेहा दुबे के चारों तरफ काफी चर्चा हो रही है और लोग काफी तारीफ भी कर रहे है।

IFS स्नेहा दुबे कौन है ? | Sneha Dubey Biography in Hindi

अपने पहले ही प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास करने वाली स्नेहा दुबे एक IFS ऑफीसर है। फिलहाल वह संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारत की प्रथम सचिव है।

स्नेहा दुबे का जन्म साल 1992 में गोवा में हुआ है। उनका पालन पोषण भी गोवा में ही हुआ है और स्नेहा दुबे ने अपनी स्कूलिंग भी गोवा प्राइमरी स्कूल से की है। वही अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पुणे के फरगस्युन कॉलेज से की हैं और दिल्ली के जेएनयू कॉलेज से MA और MPhil की पढ़ाई पूरी कर चुकी है।

मुश्किल वक्त में शहनाज के पिता ने अपने हाथों पे शहनाज नाम के टैटू बनवा किया बेटी को सपोर्ट

स्नेहा दुबे को बचपन से ही आई एफ एस बनने का शौक था वह शुरू से ही पढ़ाई में काफी अच्छी थी और अपने सपनों को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत किया करती थी।

उनके मेहनत के परिणाम स्वरूप साल 2011 में उन्होंने अपने पहले ही कोशिश में सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास कर ली।

यूपीएससी पास करने के बाद उनका पहली नियुक्ति भारतीय विदेश मंत्रालय में किया गया था। इसके बाद साल 2014 में उनकी नियुक्ति मैड्रिड में स्थित भारतीय दूतावास में की गई।

भारतीय दूतावास में काम करने के बाद स्नेहा दुबे संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रथम सचिव के रूप में नियुक्त की गई।

कंगना रनौत ने किया अपनी आनेवाली फिल्म Sita – The Incarnation फिल्म का अनाउंसमेंट, लीड रोल में आएंगी नजर

स्नेहा दुबे को घूमना काफी पसंद है इसलिए उन्होंने अपनी प्रथम नियुक्ति विदेश मंत्रालय के रूप में लिए। विदेश मंत्रालय के रूप में उन्हें देश विदेशों में घूमने का काफी मौका मिला।

स्नेहा दुबे यह कहती हैं कि उनका कभी भी प्लान B नहीं रहा। शुरू से ही उनका ध्येय सिविल सर्विसेज एग्जाम को पास करना था क्योंकि प्लान B होने से उनका ध्यान भटक सकता था।

दोस्तों आपको स्नेहा दुबे के बारे में यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताये और ऐसे ही जानकारी के लिए हमारे वेबसाइट पे बने रहे।

सुरभि दास जीवन परिचय | Surabhi Das Biography in Hindi

रतन चौहान का जीवन परिचय | Ratan Chauhan Biography in Hindi

2 thoughts on “IFS ऑफिसर स्नेहा दुबे जीवन परिचय | Sneha Dubey Biography in Hindi”

Leave a Comment